Home / लाइफ स्टाइल / अगर छोड़ देंगे यह आदतें, तो आप भी बन सकते है सुपरमैन

अगर छोड़ देंगे यह आदतें, तो आप भी बन सकते है सुपरमैन

इस दुनिया में हर एक मनुष्य में किसी न किसी प्रकार की कोई ना कोई आदत जरुर होती है, जैसे कुछ को अखबार पढ़ने की, किसी को घुमने फिरने फिरने की तो किसी को चाय पीने की आदत होती है। आज हम ऐसी कुछ आदतों के बारे में बात करेंगे जिनको त्याग कर आप भी सफलता की उचाईयों को छू सकते है, तो आइये जानते है उन आदतों के बारे में…

नहीं करने चाहिए एक साथ कई काम : कई लोगों को देखा गया है की वो बहुत सारे काम एक साथ करने लगते है लिहाजा एक भी काम समय पर नहीं हो पाता है और सभी काम अधूरे रह जाते है, इसका सीधा असर हमारे दिमाग पर होता है जिसकी वजह से आपके सोचने समझने की शमता धीरे धीरे कम होने लग जाती है।

नींद की कमी होने के कारण : आपको नींद की कमी से ना केवल आंखों में दर्द होता है बल्कि आँखों के निचे कालापन भी आना शुरू हो जाता है और यह सीधा आपके आँखों की रौशनी के लिए भी बहुत घातक साबित हो सकता है, क्योंकि नींद की कमी से आपकी आँखों पर जोर पड़ने लगता है और धीरे धीरे ऑंखें कमजोर होना शुरू हो जाती है और दिगाम थका हुआ महसूस करता

 

धूम्रपान को कहें ना : धूम्रपान एक ऐसा नशा है जो ना सिर्फ आपको, आपके आस पास के माहोल को भी प्रदूषित करता है साथ ही इससे निकलने वाली जानलेवा गैस आपकी त्वचा और फेफड़ो के साथ साथ दूसरों को भी बहुत तकलीफ पहुचाते है, इसमें मौजूद निकोटिन शरीर में विटामिन सी की कमी को बढ़ता है जिसकी वजह से समय से पहले ही आपकी स्किन पर झुर्रियां पड़ने लगती है और त्वचा बुढ़ापे जैसी दिखने लगती है इसलिए धुम्रपान को आज से ही कहें ना.

ना बैठे रहे एक ही स्थान पर ज्यादा समय तक : आज के समय में ऑफिस का काम करने वाले लोगों को बहुत बैठना पड़ता है क्यूंकि आज के समय में ज्यादातर काम कंप्यूटर के माध्यम से होते है जिसकी वजह से एक ही जगह बैठ कर काम करना होता है जो की हो सकता है आपके लिए बहुत ही खतरनाक, रिसर्च के अनुसार जो लोग बहुत देर तक बेठे रहते हैं उन्हें गुर्दे और हृदय के रोग होने की सम्भावना रहती है यहां तक उन्हें कैंसर और मोटापे का भी खतरा होता है.

बहुत तेज आवाज में संगीत सुनना : वो लोग जिन्हें गाना सुनना या डांस करना बहुत पसंद होता है वो लोग बहुत तेज आवाज में संगीत चलाकर सुनते है जिसकी वजह से धीरे धीरे उनकी सुनने की क्षमंताकम होने लगती है. खासकर हेडफोन पर तेज आवाज में सुनना और भी नुकसानदेह है।

loading...

Check Also

अगर आप भी है बहुत चाय पिने के शौक़ीन तो इसे जरूर पढ़े

सिर्फ दो सौ वर्ष पहले तक भारतीय घर में चाय नहीं होती थी। आज कोई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *