Home / सौंदर्य / जानिये फटी एड़ियों को कैसे करें ठीक घरेलु उपचार से

जानिये फटी एड़ियों को कैसे करें ठीक घरेलु उपचार से

फटे पैर और फटी एड़ियां दर्द करने के अलावा काफी अजीब भी दिखती हैं। ये समस्या आमतौर पर ठण्ड के मौसम में होती है, परन्तु कई महिलाओं एवं पुरूषों को यह परेशानी गर्मी के मौसम में भी हो जाती है। रोकथाम हमेशा इलाज से बेहतर माना जाता है। पैरों और एड़ियों को फटने से रोकने के लिए कई घरेलू उपचार और जीवन शैली टिप्स है। निम्नलिखित 7 सरल तरीके हैं जो आपको मुलायम और अच्छे पैर प्राप्त करने में मदद करेंगे।

फटी एड़ियों का प्राकृतिक इलाज

प्रभावित क्षेत्र को मॉइस्चराइज करना

प्रभावित क्षेत्र को मॉइस्चराइज करना

एड़ी में दरारें पैरों की चमड़ी के सूखने की वजह से होती हैं, इसलिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं कि आपके पैर

  • मॉइस्चराइजिंग कैसे प्राप्त करें। रात को सोने से पहले, प्रत्येक फटी हुई एड़ी पर एक चम्मच नारियल के तेल की मालिश करें और पैरों को जुराबों के साथ ढक लें।
  • एवोकाडो का तेल एक प्राकृतिक त्वचा को शांत करने वाला तेल है और यह कटी और फटी त्वचा के लिए उत्कृष्ट है। यह रोगाणुओं को मारने और त्वचा को मॉइस्चराइज़ करने में मदद करता है।
  • ऑर्गेनिक मक्खन सभी पोषक तत्वों से भरा होता है, जैसे विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन ई तथा एंटी-ऑक्सिडेंट्स और आवश्यक फैटी एसिड, जो पैर की सूखी त्वचा को ठीक करने में मदद करते हैं।
  • आप जैस्मीन, गुलाब, कैमोमाइल, लैवेंडर और मीठे बादाम जैसे आवश्यक तेलों के साथ एप्सोम साल्ट और बेकिंग सोडा को मिला कर उस मिश्रण से सूखे पैरों को मॉइस्चराइज़ कर सकते हैं।

शहद और पानी उपचार

शहद और पानी उपचार

शहद में मॉइस्चर और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो फटी और रुखी एड़ियों के लिए एक अच्छा इलाज है। इसके लिए एक टब में गर्म पानी और एक कप शहद मिला लें। फिर 15 से 20 मिनट तक इस पानी में अपने पैरों को डुबो दें।
गर्म पानी से शहद धीरे-धीरे मृत त्वचा को छीलकर उस त्वचा को फिर से भर देता है और पैरों की नमी को बनाये रखती है।

पैर की उंगलियों के बीच का क्षेत्र सूखा रखें

जब आप अपने पैरों को सुखाते हैं, तो अपने पैर की उंगलियों के बीच में अतिरिक्त पसीने की नमी और गंदगी की सफाई को सुनिश्चित करें। आपके गीले पैर, उंगलियों के बीच में फंगल इंफ्केशन के लिए एक आदर्श वातावरण बनाती है।

सूती जुराबें पहनें

अपने पैरों को फटने से बचने के लिए पैरों में जरूरी नरमी बनाए रखें। एक अच्छा मॉइस्चराइजर लगाने के बाद सूती जुराबें पहन लें। इससे पैरों में जरूरी नमी बरकरार रहती है। आप इच्छा अनुसार तो वनस्पति तेल भी लगा सकते हैं।

आरामदायक जूते पहनें

पैरों को फटने से बचने के लिए आरामदायक जूते पहनें चाहिए। जूते न तो अधिक टाइट होने चाहिए और न ही बहुत अधिक ढीले होने चाहिए। सख्ति जूते आपके पैरों के दर्द को बढ़ा सकते हैं।

हल्दी और तेल की मालिश

हल्दी और तेल की मालिश

तेल सबसे अच्छा प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र हैं, इसलिए आपके शुष्क पैरों और फटी हुआ एड़ियों के लिए अच्छे पुरानी तेल की मालिश की पद्धति का उपयोग करें। आप किसी भी हाइड्रोजनीकृत तेल के साथ हर्बल हल्दी का उपयोग फटी हुई एड़ी की मालिश के लिए कर सकते हैं। हल्दी के एंटी-फंगल और एंटी-सेप्टिक गुण, नरम और चिकनी एड़ी देने के लिए चमत्कार कर सकते हैं। यहां तक कि अगर आपकी एड़ियां बहुत अंदर तक फट गई हैं और उनमें से खून बहता है तो तेल और हर्बल हल्दी का पैक एड़ियों की त्वचा चिकना बना देगा।

पैर की देखभाल वाली क्रीम लगाएं

आप मॉइस्चराइजिंग क्रीम का भी उपयोग कर सकते हैं और उनका फ़ार्मूल अत्यधिक मॉइस्चराइजिंग एजेंटों में केंद्रित होता है। मॉइस्चराइज क्रीम लगाने से पहले आपको अपने पैर को गुनगुना पानी से धोना चाहिए। दिन में दो बार पैरों पर मॉइस्चराइजिंग क्रीम लगाएं।

loading...

Check Also

अगर आप भी डायबिटीज से है परेशान तो जानिये क्या खाये और क्या नहीं

आज के समय में डायबिटीज होना कोई बड़ी बात है नहीं रिसर्च के मुताबिक 100 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *