Home / लाइफ स्टाइल / जानिये किन बिमारिओं के लिए चमत्कारी है लहसुन

जानिये किन बिमारिओं के लिए चमत्कारी है लहसुन

लगभग हर घर में उपयोग आने वाला अत्यंत सुगन्धित और स्वादयुक्त, लहसुन का उपयोग दुनिया के हर व्यंजन में किया जाता है। लहसुन में कुछ सल्फर तत्व अधिक होते हैं, जो कि उनकी खुशबू और स्वाद को बढाता है। लहसुन हल्दी के बाद दूसरा सबसे फायदेमंद घरेलु औषधि है। आइये आज कुछ ऐसे ही फायदों पर चर्चा करें।

हृदय रोग की रोकथाम

रोजाना लहसुन का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रहता है यह रक्तचाप और ब्लड शुगर के स्तर बनाये रखने के लिए बहुत ही फायदेमंद है। लहसुन का कच्चा या अर्द्ध-पकाया खाने से किसी भी लाभ को प्राप्त करना आसान है।

इम्यून सिस्टम से बचाता है लहसुन

लहसुन में सबसे अच्छा संक्रमण-विरोधी गुण होता है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देता है। लहसुन में एंटीवायरल, एंटीबायोटिक, एंटी-फंगल के गुण होते हैं जिससे यह सभी संक्रमणों से लड़ने में सक्षम होता हैं। बैक्टीरिया, वायरस, कवक या फंगस से प्रभावित त्वचा के स्थान पर कच्चा कटा हुआ लहसुन रगड़ने से फायदा होता है।

कैंसर से लड़ता है लहसुन

लहसुन के स्वास्थ्य लाभ में कैंसर की रोकथाम इसकी मुख्य भूमिका है। अनुसंधान मानते हैं कि असाधारण एंटी-कैंसर गुणों के के लिए लहसुन हाइड्रोजन सल्फाइड को बढ़ाता है। इस हाइड्रोजन सल्फाइड उत्पादन के साथ, लहसुन, प्रोस्टेट, और पेट के कैंसर सहित विभिन्न प्रकार के कैंसर रोकने के लिए प्रभावी है।

सूजन में लाभकारी है लहसुन

लहसुन में सूजन विरोधी तत्व हमारी मस्कुलोस्केलेटल प्रणाली और श्वसन प्रणाली को फायदा देता है। लहसुन में पाए जाने वाले दो सल्फर वाले घटकों में एंटी-आर्थराइटिक गुण होते हैं। सांस की नली में एलर्जी और सूजन में भी लहसुन सुधार करता है और लहसुन में सल्फर युक्त तत्व मोटापे की सूजन को कम करते हैं।

दांत दर्द

लहसुन दांत के दर्द के लिए घरेलू उपचार है, जिसमें एंटीबायोटिक होता है। लहसुन को पीस कर दर्द वाले दांत में लगाने से बैक्टीरिया खत्म होते है। पिसे हुए लहसुन में लौंग पाउडर मिलाने से दर्द में और भी लाभ मिलता है।

कान दर्द

लहसुन और लौंग को एक साथ कुछ तिल का तेल मिलाएं और मिश्रण को हल्का गर्म करें। बाद में इसे कान में बूंदों के रूप में उपयोग करें।

खांसी

लहसुन को चाय के साथ उबालकर पीने से यह सांस लेने में आसानी करेगा और खुजली और सूजन को भी कम करने में मदद करेगा।

loading...

Check Also

यदि आप भी बारिश के मौसम में फोड़े-फुंसी से हैं परेशान तो करें यह घरेलू इलाज

अब बारिश का मौसम भी शुरू हो चुका है और इस मौसम में कई बार गंदे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *