Home / लाइफ स्टाइल / जानिये नींद पूरी न करने से होने वाले नुक्सान के बारे में

जानिये नींद पूरी न करने से होने वाले नुक्सान के बारे में

नींद मानव शरीर और जीवन शैली का सबसे महत्वपूर्ण भाग है। नींद आपको बेहतर महसूस करवाती है, इसका महत्व आपके मूड को बढ़ाने और आँखों के काले घेरों को हल्का करने से भी अधिक है। पर्याप्त नींद एक स्वस्थ जीवनशैली का महत्वपूर्ण हिस्सा है, जो आपके दिल, वजन, मन, दिमाग को और भी अधिक लाभ देती है। नींद आपके शारीरिक स्वास्थ्य में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, उदाहरण के लिए, आपके दिल और रक्त वाहिकाओं को ठीक करने और उनकी मरम्मत करने में नींद का योगदान होता है। आइये आज हम खराब नींद के कुछ आश्चर्यजनक और गंभीर दुष्प्रभावों पर चर्चा करें।

  1. जब आप कम सोते हैं, तो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली संक्रमण से लड़ने वाली कम साइटोकिन्स बनाती है। कम साइटोकीन्स से आपकी नींद में कमी होती है और बीमारी से बचाव के लिए इम्यून सिस्टम भी कमजोर होती
    हैं।
  2. नींद की कमी आपकी प्रतिरक्षा तंत्र की ताकत कम करती है, जो मधुमेह और हृदय रोग जैसी बीमारियों के जोखिम को बढ़ती है।
  3. नींद की कमी आपको क्रोधी और बेचैन बनाती है। नींद की कमी आपके शादीशुदा जीवन, स्मृति और वजन कम करने की क्षमता पर भी बुरा प्रभाव डालती है।
  4. नींद की कमी आपका वजन बढ़ाती हैं। एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग दिन में पांच घंटे से भी कम समय तक सोते हैं वे पर्याप्त नींद वाले लोगों की तुलना में अधिक मोटे होते हैं।
  5. खराब नींद से नींद वाले हार्मोन्स के स्तर में कमी होती है, जिससे स्वास्थ्य भी खराब होता है। नींद की कमी मानसिक स्वास्थ्य ख़राब करती है।
  6. नींद याददाश्त बढ़ाने और कुछ भी सीखने की प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। नींद का अभाव कई तरह से इन प्रक्रियाओं को नष्ट कर देता है, जिससे ध्यान, सतर्कता, एकाग्रता और तर्क में कमी आती है।
  7. एक बुरी नींद अशांत मन से संबंधित है और अच्छे हार्मोन के उत्पादन में भी कमी करती है और जो मधुमेह की समस्याओं को बढ़ाती है। अच्छी नींद के अभाव में पैंक्रियास ग्रंथि पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन पैदा नहीं करती है, जिसके कारण आपको मधुमेह की बीमारी में बढ़ावा होता है।
  8. विशेषज्ञ मानते हैं कि नींद से वंचित पुरुष और महिलाएं शारीरिक संबंध के जीवन में कम रुचि रखते हैं। थकावट, अनिद्रा और बढ़ता तनाव काफी हद तक इसके लिए दोषी है। अध्ययन से पता चलता है कि नींद की कमी वाले कई पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होता है ,जो शारीरिक सुख की कमी का परिणाम है।
  9. एक स्वस्थ नींद की कमी से शरीर के सभी भागों को उचित कार्य करने में मुश्किल रहती है, जिससे आपको दिल की बीमारी, दिल का दौरा, दिल की अनियमित धड़कन, उच्च रक्त चाप और आघात जैसे कई जोखिमों में डाल सकती है।
  10. अगर आपको पुरानी दर्द हो तो पर्याप्त नींद लेने से वास्तव में आपको चोट की दर्द का अनुभव कम होता है। कई अध्ययनों में नींद की कमी और कम दर्द सहनशीलता के बीच एक जुड़ाव दिखाया गया है।

अंत में खराब नींद की आदतों का निश्चित रूप से आर्थिक प्रभाव पड़ता है। यह गद्दे, बिस्तर, कान के प्लग, आंखों की पट्टियों और कई नींद संबंधित उत्पादों सहित उद्योगों को पनपाते हैं। नींद विकार वाले रोगी डॉक्टरों को भी मिलते हैं, जहां वे स्वास्थ्य देखभाल और दवाइयों के उद्योग का भी विकास करवाते है। इसलिए आपको बेहतर नींद की आदतों के लिए तनाव मुक्त आदतों को विकसित करने की आवश्यकता है।

loading...

Check Also

यदि आप भी बारिश के मौसम में फोड़े-फुंसी से हैं परेशान तो करें यह घरेलू इलाज

अब बारिश का मौसम भी शुरू हो चुका है और इस मौसम में कई बार गंदे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *